Prayas In News

सरकार को लक्षित लॉकडाउन जैसे कदम उठाने होंगे, जिससे अर्थव्यवस्था को भी बचाया जा सके

कोरोना कोविड-19 वायरस पूरे विश्व में एक व्यापक संक्रामक महामारी का रूप ले चुका है। रोग की भयावहता और इसकी तेज गति के संक्रमण के कारण कई देशों ने अपने यहां पूर्ण लॉकडाउन कर दिया, यानी सभी काम रोक दिए गए और सभी व्यक्तियों को अपने घरों में रहने के लिए बाध्य कर किया गया। विश्व में पहली बार इस तरह की घटना हुई कि पूरा विश्व ही जैसे इस महामारी से बचाव के लिए रुक गया हो।

COVID-19: We will write to states to resume immunisation, says Centre

The Centre will coordinate with states to ensure that routine immunisation activities, ante-natal check-ups for pregnant women and other such essential medical services are not hampered during the nation-wide lockdown, a senior government official said on March 31, 2020. Lav Agarwal, joint secretary

COVID-19: Rajasthan’s Bhilwara, and Hints of Community Transmission

As numbers of those affected by the novel coronavirus continue to surge across India, a tiny district in Rajasthan is assuming significant attention. With a population of approximately 24 lakh, Bhilwara, barely 250 kilometers away from the state’s capital Jaipur, has reported 25 cases and two deaths so far.

Migrants Returning Home To Ill-Equipped Healthcare Systems

Mumbai: Even as the number of positive COVID-19 cases spikes, the nationwide lockdown has pushed India’s millions of migrant workers, the bulk of whom live in and around urban centres, into a state of extreme vulnerability and peril. Combined with the immediate loss of daily wages and lockdowns in major source

Naming and Shaming of COVID-19 Patients Unethical, Say Activists

On 21 March 2020, a local Hindi newspaper, in Ajmer, Rajasthan, carried a report on 46 individuals who had been quarantined by the state health department. Not only did paper mention the names of local residents who had recently returned from a trip abroad, it even published their addresses.

कोरानावायरस संभावित मरीजों की निजता भंग करना कितना सही है?

राजस्थान के श्रीगंगानगर में स्वास्थ्य विभाग के एक काम ने बहस छेड़ दी है। विभाग ने विदेशों से आए लोगों के घरों के आगे स्टीकर लगा दिए हैं और इसे सोशल साइट फेसबुक पर भी शेयर किया गया है। ये कोरोनावायरस संदिग्ध लोग हैं जो 14 दिन के लिए होम क्वेरेंटाइन (घर में अकेले) किए गए हैं।

स्वास्थ्य सेवाओं के संबंध में आज पंचायत समिति में होगी गोष्ठी

चित्तौड़गढ़| विश्व स्वास्थ्य दिवस पर गोष्ठी शनिवार सुबह 11 बजे पंचायत समिति सभागार में होगी। प्रयास सलाहकार सामुदायिक स्वास्थ्य वैज्ञानिक डाॅ. नरेंद्र गुप्ता ने बताया कि प्रयास सहित चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग, वरिष्ठ नागरिक मंच

No Vasectomy Raj in the State

I am still guilty that I killed my wife. She was a very brave and a wise lady. Considering our financial status we both mutually decided that she will go for sterilisation. To save money she